Anjana om kashyap की जीवनी  2021
Anjana_Om_Kashyap

Anjana om kashyap की जीवनी 2021

हिंदी पत्रकारिता में जिसने कम  समय अपना नाम हिमालय जैसे बड़ा किया वह नाम Anjana om kashyap अजना ओम  कशयप है।  हिंदी पत्रकारिता में जिस ऊंचाई पर अजना ओम कशयप का नाम है ,उनके बारे मे जितना लिखे उतना काम है।

व्यक्तिगत जीवन

नाम              अजना ओम कशयप
जन्म              रांची, बिहार (अब झारखंड), भारत
पेशा              Journalist,( पत्रकार, समाचार प्रस्तुतकर्ता)
सक्रिय वर्ष     2003 – वर्तमान
कर्मचारी        India Today Group
पति               मंगेश कश्यप
बच्चे               २

अंजना का विवाह 1995 के दिल्ली अंडमान और निकोबार द्वीप के पुलिस सेवा संवर्ग के एक अधिकारी मंगेश कश्यप से हुआ। वह दिल्ली विश्वविद्यालय में अपने दिनों के दौरान मंगेश से मिलीं। मंगेश तत्कालीन परिशिष्ट था। दिल्ली पुलिस के उपायुक्त और 2016 के बाद से, दक्षिणी दिल्ली नगर निगम के मुख्य सतर्कता अधिकारी रहे हैं।उनका एक बेटा और एक बेटी है।

Anjana Om Kashyap एक भारतीय पत्रकार और एंकर हैं। वह हिंदी समाचार चैनल आजतक की कार्यकारी संपादक हैं ,रोज़ शाम 6:00 “हला  बोल ” इस प्रोग्राम पेश करती है , को काफी हिट शो  माना जाता है। 

प्रारंभिक जीवन और शिक्षा

अपनी प्रारंभिक शिक्षा लोरेटो कॉन्वेंट में, एक स्थानीय कैथोलिक स्कूल और फिर, दिल्ली पब्लिक स्कूल, रांची से की थी। दिल्ली विश्वविद्यालय के तहत वनस्पति विज्ञान में एक सम्मान हासिल किया। अंजना ऑल इंडिया प्री मेडिकल टेस्ट के लिए उपस्थित हुईं लेकिन पास नहीं हो पाईं।

वह बचपन से ही एक प्रतापी डिबेटर थीं और मजबूत नेतृत्व गुणों का प्रदर्शन करती थीं, वह अपनी स्कूल दिनों से छोटे मोठे डिबेट में हिस्सा लिया करती थी यही कला के कारन Anjana om kashyap आज इस मुकाम पर है।

Anjana om kashyap – Carrer

अजना की पहली नौकरी देवू मोटर्स में काउंसलर के रूप में थी।  हालाँकि उन्हें यह काम  बहुत दिनों  तक पसंद नहीं आया और उन्होंने  एक साल के बाद ही छोड़ दिया। इसके बाद वह एक कानूनी परामर्शदाता की भूमिका में एक एनजीओ से जुड़ीं, जो झुग्गी-झोंपड़ियों में रहने वालों के लिए काम करता था, मगर वह भी  Anjana om kashyap दिल बहुत दिनों तक नहीं लगा।

Anjana om kashyap – पत्रकारिता 

साल 2000 के दशक की शुरुआत में, अंजना ने जामिया मिलिया इस्लामिया से मुख्य रूप से अपने पति के कारन  पर पत्रकारिता का विकल्प चुना।  स्नातक होने पर, उन्हें दूरदर्शन से कुछ परिचितों की सहायता से शामिल किया गया था। मतलब एक पत्रकार के रूप में उनका पहला जॉब दूरदर्शन था। मगर वह भी अंजना बहुत दिनों तक नहीं रही।

एक साल के अंदर ही , वह ज़ी न्यूज़ में चली गई।  Anjana om kashyap  एक एंकर बनना चाहती थी , मगर सुरवती दिनों में ज़ी न्यूज़ चैनल में उन्हें इतनी जल्दी सफलता नहीं मिली एक

एंकर के रूप में मगर कभी-कभी विशेष सुविधाओं के लिए एक एंकर के रूप में उपयोग किया जाता था। और यही वह समय था जिसक फायदा अंजना ने उठाया और अपने आप को साबित किया एक  एंकर के रूप में। और वहां से दूसरी और चल पड़े।

साल 2007 में, वह न्यूज 24 में शामिल हुईं जहां  उनका एंकर बने का सपना पूरा हुवा , वह पहली बार, एक शाम के डिबेट शो को मॉडरेट करने के रूप में एंकरिंग में एक मुख्य भूमिका निभाई थी। 

उसने  साल 2012 की शुरुआत में वह चैनल भी छोड़ दिया और स्टार समाचार पर चली गई। उसके बाद Anjana om kashyap ने पीछे मूड के नहीं देखा और उस समय भारत का no.1 चैनल aaj tak में काम करना सुरु किया। आज वह की  कार्यकारी संपादक के पद पर है।

विवादें 

इंसान किसी भी क्षेत्र बड़ा होने के बाद उसका विवादों से नाता जोड़ जाता है,  ऐसा ही खुद अंजना  के साथ हुवा , 2014 तक अजना ओम कश्यप ने अपनी पत्रकारिता से पुरे भारत में अपना नाम रोशन किया था , वह पहिली एक ऐसी महिला न्यूज़ एंकर थी  जीने सामने कोई भी बड़े बड़ा  इंसान टिक नहीं पता था , बड़े बड़े राजनीतक पंडित को वह चुप करा देती थी। और सबसे  बड़ी उनके सफलता की बात थी के उनकी निष्पक पत्रकारिता।  

मगर कुछ साल बाद याने 2014 के बाद अंजना ओम कश्यप पर देर सरे आरोप लगे , जो एंकर निष्पक पत्रकारिता के लिए जानी जाती थी वह समय के साथ वह मुकाम रहा नहीं , लोगो में उनकी निष्पक्ष पत्रकार की सेबी नहीं रही।

 

 

Leave a Reply